blogid : 147 postid : 703265

Valentine Week Result - जिंदगी का दूसरा नाम हो तुम

Posted On: 14 Feb, 2014 Others में

  • SocialTwist Tell-a-Friend

प्रिय मित्रों,


जागरण जंक्शन मंच पर 7-13 फरवरी के मध्य संचालित ‘Valentine Week: जाने कब कौन जिंदगी का हिस्सा बन जाए’ अभियान में आप सभी की भारी संख्या में शिरकत ने फिजां में प्रेम का रंग घोल दिया। जब व्यक्ति को अपने दिल की भावनाएं बयां करने का एक सुनहरा अवसर मिलता है तो वो बिना किसी भय के दिल खोलकर अपनी भावनाओं को इस कदर जाहिर करता है कि शब्द वास्तविकता का रूप धारण करने लगते हैं। हमारे मित्रों द्वारा बयां की गई भावनाओं को पढ़कर ऐसा ही लगा जैसे आपने अपने दिल के भीतर किसी के लिए इस कदर प्यार समेट लिया है कि भीड़ में भी आपकी मोहब्बत का ख्याल आपके दिलो-दिमाग पर हावी रहता है।


जैसा कि हमने आपको पहले ही बताया था कि व्यक्ति की सच्ची भावनाओं को किसी भी पैमाने पर मापा नहीं जा सकता है किंतु क्योंकि इस आयोजन का आशय भावनाओं की बेहतरीन अभिव्यक्ति को बढ़ावा देना है इसलिए संपादक मंडल के दिल को छू लेने वाली अनुशंसित पांच सर्वश्रेष्ठ अभिव्यक्तियों को ब्लॉगर की तस्वीर सहित मंच के मुख्य पृष्ठ पर वैलेंटाइन डे के दिन (14 फरवरी) प्रदर्शित करने के अपने वादे को जागरण जंक्शन परिवार पूरा कर रहा है।


तो मिलिए प्यार के उन परवानों से जिनकी भावनाओं ने दिल के तार को छुआ…………



shubhaशुभा द्विवेदी

कहानी जमीं-आसमां की



shilpaशिल्पा भारतीय

और कोई बात नहीं!



swetaश्वेता

तुम थे और मैं थी!



aarti sharmaआरती शर्मा

पहले प्यार का एहसास



arun sharmaअरुन शर्मा

प्रिये तुम तो प्राण हो



धन्यवाद

जागरण जंक्शन


Web Title : valentine-week-blog-invitation result



Tags:                 

Rate this Article:

1 Star2 Stars3 Stars4 Stars5 Stars (2 votes, average: 4.00 out of 5)
Loading ... Loading ...

13 प्रतिक्रिया

  • SocialTwist Tell-a-Friend

Post a Comment

CAPTCHA Image
*

Reset

नवीनतम प्रतिक्रियाएंLatest Comments

Shweta Misra के द्वारा
February 15, 2014

प्रेम विषय ही स्वयं में इतना विस्तृत है कि लेखन में शब्द कम पड़ जाते हैं ……….. जागरण जंक्शन ब्लॉग से मुझे अपने इस प्रयास पर स्नेह सम्मान एवं प्रोत्साहन पाकर मन पुलकित हो उठा है …………..आप सभी का सादर हार्दिक धन्यवाद !!! सभी प्रतिभागियों को बधाई एवं असीम शुभकामनाये !!! सादर !!

Shweta Misra के द्वारा
February 15, 2014

प्रेम विषय ही स्वयं में इतना विस्तृत है कि लेखन में शब्द कम पड़ जाते हैं ……….. जागरण जंक्शन ब्लॉग से मुझे अपने इस प्रयास पर स्नेह सम्मान एवं प्रोत्साहन पाकर मन पुलकित हो उठा है …………..आप सभी का सादर हार्दिक धन्यवाद !!! सभी प्रतिभागियों को बधाई एवं असीम शुभकामनाये !!! सादर !!

यूँ तो समाचार पत्र के माध्यम से वर्षों से इस जागरण परिवार जुडी रही परन्तु जागरण जंक्शन ब्लॉग के परिवार में नयी उपस्थिति है और नये सदस्य के रूप में जिस तरह से इस परिवार का प्यार एवं सम्मान एवं प्रोत्साहन मिला उसके लिये जागरण जंक्शन परिवार की हृदय से आभारी हूँ..ऐसा मंच अन्यत्र कहीं नहीं.. सभी विजेताओं एवं प्रतिभागियों को हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाये..

    Shweta Misra के द्वारा
    February 15, 2014

    शुभा जी बहुत ही दिलकश अंदाज़ में लिखा है आपने ……इस उत्कृष्ट रचना के लिए और विजेता बनाने के लिए हार्दिक बधाई

sadguruji के द्वारा
February 15, 2014

” ढाई आखर प्रेम का पढ़े सो पंडित होय “,इससे ज्यादा प्रेम के बारे में क्या कहूं.आप सबकी रचनाएं बहुत अच्छी हैं.आप सभी विजेताओं को बहुत बहुत बधाई.भविष्य में आप और अच्छा लिखें,यही मेरी शुभकामना है.पांचों सर्वश्रेष्ठ विजेताओं की तस्वीर उनके अचना विवरण सहित मंच के मुख्य पृष्ठ पर वैलेंटाइन डे के दिन प्रदर्शित कर उन्हें प्रोत्साहित करने के लिए जागरण जंक्शन परिवार को हार्दिक बधाई.

aartisharma के द्वारा
February 14, 2014

मैं बेहद शुक्रगुजार हूँ जागरण-जंक्शन टीम और संपादक मंडल की ..जिन्होंने हमे मोका दिया अपनी प्रतिभा को शब्दों के माध्यम से पंक्तियों में पिरोने का…होस्लाफ्ज़ाही के लिए बहुत बहुत शुक्रिया yamunapathak जी   ..सादर.

yamunapathak के द्वारा
February 14, 2014

शुभाजी,शिल्पाजी,श्वेताजी,आरतीजी और अरूण जी आप सब को यमुना की हार्दिक बधाई ….जीवन का सार प्रेम है प्रेम से भरा दिल समाज में प्रेम ही फैलता है….इस प्यारी सी युवा पीढ़ी पर हमें गर्व है जो अपनी जिम्मेदारियों को बखूबी समझती है. साभार

    shubhaaruni के द्वारा
    February 15, 2014

    बहुत सुन्दर है आपके विचार और भावनाए यमुना जी आपको आभार ………….अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता का अधिकार जागरण जंक्शन ने हम सबको प्रदान किया जो कि सविधान कि मूल आत्मा है जो की हर नागरिक में होनी चाहिए इसी अनुकम्पा के साथ …………….

    बहुत सुंदर विचार व्यक्त किये यमुना जी आपके प्रेम एवं प्रोत्सहन हेतु हृदय से आभार..आप लोगो प्रेरणा एवं मार्गदर्शन की आकांक्षी…दुआएं एव नेक तमन्नाये आपके नाम..धन्यवाद!

    Shweta Misra के द्वारा
    February 15, 2014

    आपके स्नेहिल भरे शब्दों के लिए कोटि कोटि आभार ……….जागरण जंक्शन पर आकर अपनी प्रतिभा दिखाने का अवसर मिला ….जिसके लिए हम ह्रदय से आभारी है …आगे भी आप सबकी स्नेह छाया में लिखने की प्रेरणा और मार्गदर्शन मिलती रहे इसी उम्मीद के साथ …………आप सभी का सादर धन्यवाद !!!

shubhaaruni के द्वारा
February 14, 2014

दिल से आभार आपका जागरण जंक्शन , आपने एक खूबसूरत सा कैनवास प्रदान किया जिसे सबने अपने प्रेम के कई रंगों से रंगने का प्रयत्न किया ……………… शुभा द्विवेदी

    Shweta Misra के द्वारा
    February 15, 2014

    शुभा जी इस उत्कृष्ट रचना के लिए और विजेता बनाने के लिए बधाई और ढेरों शुभकामनाये


topic of the week



अन्य ब्लॉग

latest from jagran